कालसर्प दोष लक्षण: इन संकेतो से जाने कालसर्प दोष है या नहीं?

कालसर्प दोष के लक्षण

अगर आपको भी लग रहा है की आपकी कुंडली मे कालसर्प दोष हो सकता है तो आज हम आपको कालसर्प दोष के लक्षण और संकेतो के बारे मे बताने वाले है जिनसे आप यह पता कर सकते है की आप पर कालसर्प दोष का प्रभाव है या फिर नहीं और साथ ही इस दोष से होने वाली परेशानियों से कैसे आप मुक्ति पा सकते है और कालसर्प दोष के बारे मे कुछ महत्वपूर्ण बाते भी जानेंगे।

कालसर्प दोष के लक्षण की मदद से आप ये जान सकते है की काही आपकी कुंडली मे भी तो नही है कालसर्प दोष और इसके लक्षण व्यक्ति के जीवन पर विभिन्न प्रभाव डाल सकते हैं। इन लक्षणों में से कुछ हैं: अधिक थकान, नींद की समस्या, धन की हानि, घर में कलह, विवाह में देरी, नौकरी में समस्या, स्वास्थ्य समस्या आदि है। इस लेख में, हम कुछ मुख्य कालसर्प दोष के लक्षणों के बारे में चर्चा करेंगे जो कालसर्प दोष के होने पर दिखाई दे सकते हैं।

कालसर्प दोष के लक्षण क्या है ?

कालसर्प दोष के लक्षण क्या है ?

कुंडली में कालसर्प दोष होने के लक्षण कुछ इस प्रकार है, इन लक्षणो के आधार पर आप यह जान सकते है, की आपकी कुंडली मे कालसर्प दोष है या नहीं :-

  • जातक को सभी प्रयास और कड़ी मेहनत करने के बाद भी सफलता नही मिलती है। 
  • कठिन परिश्रम करने के बाद भी सफलता की प्राप्ति न होना।
  • कालसर्प दोष से पीड़ित व्यक्ति के मन मे सदेव नकारात्मक विचार आते रहते है।
  • जिनकी कुण्डली में कालसर्प दोष का प्रभाव होता है उन्हें पारिवारिक कलह का सामना करना पड़ता है।
  • जातक की शिक्षा के क्षेत्र मे व्रधी न होना।
  • सगे संबंधी ही धन के मामले में धोखा करते हैं।
  • ऐसे लोंगो को बुरे व डरावने सपने आते है, एवं अक्सर साँप भी दिखाई देता है ।
  • हमेशा रोगों से घिरे रहते हैं, स्वास्थ सही नहीं रहता है।
  • जातक को रात मे सोते समय ज्यादातर सांप के सपने आते है। 
  • जातक के दुश्मनों की संख्या मे सदेव बड़ोत्तरी होती रहती है। 
  • कालसर्प दोष से पीड़ित व्यक्ति मे मन मे हमेशा नकारात्मक विचार आते है। 
  • जिन लोगों की कुंडली में कालसर्प दोष होता है, वे अनियमित नींद से पीड़ित होते हैं, यानी वे सोते समय कई बार उठते हैं।
  • कालसर्प दोष से पीड़ित व्यक्ति के व्यापार में अड़चने बनी रहती हैं, लगातार घाटे का सामना करना पड़ता है।
  • जातक की कुंडली मे कालसर्प दोष होता है तो उसके पारिवारिक जीवन मे सदैव तनाव की स्थिति बनी रहती है। 

कुंडली में कालसर्प दोष होने के संकेत

कुंडली में कालसर्प दोष निर्धारण के संकेत

नीचे कुछ कालसर्प दोष के संकेत है, अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो समझ जाइए की आपकी कुंडली मे भी कालसर्प दोष होने की आशंका है।

  • ऐसा कहा जाता है कि कालसर्प के प्रभाव में आने वाले लोग अपने परिवार और समाज के प्रति समर्पित होते हैं। वे प्रकृति में सामाजिक, पोषण और निःस्वार्थ हैं।
  • जिसे कालसर्प दोष होगा उसे सपने में नदी, तालाब, कुएं, और समुद्र का पानी दिखाई देता है ।
  • कालसर्प योग से पीड़ित जातक की कुंडली में संतान संबंधी समस्या होती है। कुछ लोगों को बच्चे पैदा करना चुनौतीपूर्ण लगेगा। 
  • यदि किसी की जन्म कुंडली में कालसर्प योग है तो उसे आमतौर पर अपने सपनों में मृत लोगों की तस्वीरें दिखाई देती हैं। वे अपने मृत पूर्वजों या हाल ही में परिवार के वर्तमान सदस्यों को देखते हैं।
  • जातक को ऐसा अनुभव होता है की कोई उसे रोक रहा है। 
  • कालसर्प योग के प्रभाव में जातकों को सर्प और सर्प दंश का भय सताता है। वे सपने में खुद को सांपों द्वारा कुंडलित किए जाने का सपना देखते हैं।
  • जिसे कालसर्प दोष होगा और यदि वह संतानहीन हो तो उसे किसी स्त्री के गोद में मृत बालक दिखाई देता है।
  • सपने में वह खुद को पानी में गिरते एवं उससे बाहर निकलने का प्रयास करते हुए देखता है।
  • जातक एयरो एक्रोफ़ोबिया से भी पीड़ित हो सकता हैं, जिसमे ऊँची जगहों का डर या एकांत जगहों से डर लगता है। 
  • कुंडली में मौजूद इस योग के कारण इन्हें जीवन में संघर्ष करना पड़ता है और जरूरत के समय अकेलापन महसूस होता है।
  • अक्सर वह सपने में खुद को दूसरे लोंगो से लड़ते झगड़ते हुए देखता है।
  • जातक को नींद में अपने शरीर पर साप रेंगता हुआ महसूस होता है।

कालसर्प दोष निवारण उपाय

ऊपर दिये गए कालसर्प दोष के लक्षण और संकेतो को पड़ कर अगर आपको ऐसा महसूस होता है, की आपकी कुंडली मे भी कालसर्प दोष है तो आप इसके दुष्प्रभावो के असर को कम करने के लिए कालसर्प दोष के उपाय को पड़े।

नोट: जरूरी नहीं अगर आपकी दिनचर्या मे संकेत हो तो आपकी कुंडली मे कालसर्प दोष हो इसलिए पहले किसी ज्योतिषी से अपनी कुंडली जरूर दिखवाए ओर उनका परामर्श जरूर ले ।

अपनी कुंडली मे कालसर्प दोष के बारे मे जानने के लिए आप हमारे आचार्य दीपक व्यास जी से बात कर सकते है, और फ्री मे पंडित जी को अपनी कुंडली दिखा सकते है, और कालसर्प दोष निवारण पूजा हेतु उचित परामर्श व पूजन जानकारी प्राप्त कर सकते है। पंडित जी से बात करने के लिए नीचे दिये गए बटन पर अभी क्लिक कर सकते है।

Call Now

कालसर्प दोष के लक्षण क्या है ?

जिनकी कुण्डली में कालसर्प दोष का प्रभाव होता है उन्हें पारिवारिक कलह का सामना करना पड़ता है। तथा जातक कितनी भी महनत कर ले उसे सफलता नहीं मिलती।

कालसर्प दोष के प्रभाव से किसी व्यक्ति की नौकरी या व्यापार में कैसा प्रभाव पड़ सकता है?

कालसर्प दोष के प्रभाव के कारण जातक को नौकरी जाने का खतरा बना रहता है, और व्यापार मे भी बहुत सारी हानियो और नुकसान का सामना करना पड़ता है।

कालसर्प दोष का कारण क्या होता है?

किसी भी जातक की कुंडली मे कालसर्प दोष का होना उसके पिछले जन्म मे किए गए कर्मो का फल होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *